कांग्रेस से बोले सुशील मोदी, चुकानी पड़ेगी लालू प्रेम की कीमत

0
216

बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी का कहना है कि कांग्रेस के विधायक, आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव के साथ होने से बहुत ज्यादा खफा है. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की लंबी कवायद के बाद भी बिहार कांग्रेस के विधायकों में भरोसा नहीं है. दरअसल हाल ही में बिहार प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष के पहले कार्यक्रम में पार्टी के 27 में से एक विधायक ने ही कार्यक्रम में हिस्सा लिया था.

कांग्रेस आलाकमान ने बिहार कांग्रेस के विधायकों में टूट की आशंका को देखते हुए अशोक चौधरी को प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाकर कौकब कादरी को कार्यकारी अध्यक्ष बनाया था. इससे पहले अशोक चौधरी पर ही पार्टी तोड़ने का आरोप लगा था और उसके बाद जब कार्यकारी अध्यक्ष प्रभार लेने आए तो सदाकत आश्रम में 27 में से सिर्फ एक विधायक ही कार्यक्रम में पहुंचा.

सुशील मोदी के मुताबिक, जिस दलित नेता को कांग्रेस आलाकमान ने अनुशासनहीनता के आरोप में हटाया है, उसके प्रति एकजुटता प्रकट करने के लिए 15 विधायक और एमएलसी पहुंच गए. सुशील मोदी ने कांग्रेस को कहा है कि कांग्रेस को आंख मूंद कर लालू प्रसाद का साथ देने की कीमत चुकानी पड़ेगी.

महागठबंधन सरकार टूटने के बाद से ही कांग्रेस टूट की खबर आने लगी थी. खबर थी कि कांग्रेस के तबके प्रदेश अध्यक्ष अशोक चौधरी के नेतृत्व में 14 विधायकों ने कांग्रेस तोडने का फैसला कर लिया है. खबर आलाकमान तक पहुंची तो फिर विधायकों से आलाकमान ने बात की और बाद में तय किया गया कि अशोक चौधरी को अध्यक्ष पद से हटा दिया जाए. उनकी जगह पर पार्टी में संगठन के चुनाव होने तक पार्टी के उपाध्यक्ष कोकब कादरी को कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त किया है.